टाटा अल्ट्रोज Vs मारुती बलेनो (Altroz Vs baleno )


टाटा मोटर्स ने आधिकारिक तौर पर अल्ट्रोज़ हैचबैक के साथ प्रीमियम हैचबैक सेगमेंट में  भी प्रवेश किया है। नई टाटा अल्ट्रोज़ सीधे मारुति बलेनो, हुंडई आई 20 और होंडा जैज़ को टक्कर देती है। यह नए स्केलेबल, मॉड्यूलर अल्फ़ा  प्लेटफॉर्म पर आधारित ब्रांड का पहला मॉडल है, जो एच2एक्स  माइक्रो एसयुव्ही  और 5-सीटर प्रीमियम एसयुव्ही  कोडनेम ब्लैकबर्ड को भी रेखांकित करेगा। यह नई इम्पैक्ट 2.0 डिजाइन को पेश करने वाला टाटा का दूसरा मॉडल है। आज इस आर्टिकल में कार कंम्पेरोज के जरिए  हम आपके लिए टाटा अल्ट्रोज़ और मारुति बलेनो के बीच एक स्पेसिफिकेशन की तुलना देखेंगे। तो चलिए जानते है इन बेहतरीन टाटा अल्ट्रोज और मारुती बलेनो की कीमत, स्पेसिफिकेशन, फीचर्स और अन्य जानकारियों के बारे में।



मारुति सुजुकी द्वारा मार्च 2020 से डीजल बलेनो को बंद कर दिया गया है । जिसके चलते अब बीएस 6  अनुरूप पेट्रोल इंजन - 1.2-लीटर और 1.2-लीटर ड्यूलजेट पेट्रोल एसएचव्हीएस  के साथ उपलब्ध है। हैचबैक की कीमत 5.67 लाख रुपये से लेकर 9 लाख रुपये तक है।

इंजन




टाटा अल्ट्रोज केवल एक ही बीएस6 पेट्रोल इंजन के साथ उपलब्ध है। वहीं, बलेनो बीएस 6 नॉर्म्स से लैस दो पेट्रोल इंजन के साथ आती है। बलेनो का एक इंजन माइल्ड हाइब्रिड सिस्टम से लैस है। इसके साथ स्टार्ट/स्टॉप फीचर दिया गया है, जो ईंधन की बचत करने में सक्षम है।
·         दोनों ही गाड़ियों में समान क्षमता का इंजन दिया गया है। लेकिन मारुति का माइल्ड हाइब्रिड पेट्रोल इंजन अल्ट्रोज से ज्यादा पावरफुल है।
  • टाटा अल्ट्रोज का इंजन 1.5 लीटर की क्षमता रखता है जो बीएस 6 लेस है | यह इंजन 90 पीएस का पॉवर और 200 एनएम का टॉर्क जनरेट करता है |
  • वहीं बलेनो का इंजन 1.3 लिटर का है और वह 75 पीएस का पॉवर और 190 एनएम का टॉर्क जनरेट करता है |

  •  तीनों भी इंजन समान टॉर्क जनरेट करने में सक्षम हैं।

  • अल्ट्रोज और बलेनो माइल्ड हाइब्रिड इंजन के साथ 5-स्पीड मैनुअल गियरबॉक्स स्टैंडर्ड दिया गया है। वहीं, बलेनो के स्टैंडर्ड वेरिएंट में सीवीटी गियरबॉक्स का ऑप्शन भी रखा गया है।
  •  
  • वर्तमान में टाटा अपने ड्यूल क्लच ऑटोमैटिक गियरबॉक्स पर भी काम कर रही है। उम्मीद है कि इसे भविष्य में अल्ट्रोज में शामिल किया जा सकता है।
  • दोनों कारोंमे 5स्पीड मैन्युअल गिअरबॉक्स मौजूद है |
  • सेगमेंट में अल्ट्रोज पहली कार है जिसमें बीएस6 नॉर्म्स से लैस डीजल इंजन दिया गया है। वहीं, बलेनो बीएस4 डीजल इंजन के साथ आती है।
  • अल्ट्रोज में ज्यादा क्षमता का डीजल इंजन दिया गया है। ऐसे में यह बलेनो से ज्यादा पावर आउटपुट जनरेट करती है।
  • बीएस6 नॉर्म्स लागू होने के बाद मारुति अपनी डीजल कारों को बंद कर दिया है |

साइज कंपेरिजन

टाटा अल्ट्रोज
       मारुती बलेनो
लंबाई 
3990 मिलीमीटर
3995  मिलीमीटर
चौड़ाई 
1755 मिलीमीटर
1745  मिलीमीटर
ऊंचाई 
1523 मिलीमीटर
1510 मिलीमीटर
व्हीलबेस
2501 मिलीमीटर
2520  मिलीमीटर
बूटस्पेस 
345 लीटर 
339 लीटर 

·         अल्ट्रोज के मुकाबले देखा जाए तो बलेनो की लंबाई ज्यादा है और इसके व्हीलबेस का साइज भी अल्ट्रोज से 19 मिलीमीटर ज्यादा है।
·         साथ ही  ऊंचाई और चौड़ाई के मामले में भी अल्ट्रोज से बलेनो ज्यादा बेहतर है। 
·         अल्ट्रोज में लगेज कैपेसिटी भी अच्छी-खासी मिलती है। जहां बलेनो में 339 लीटर का बूटस्पेस मिलता है, वहीं अल्ट्रोज की बूट स्पेस क्षमता 345 लीटर है
 

क़ीमत वेरिएंट के साथ 

टाटा अल्ट्रोज
मारुती बलेनो
एक्सइ  5.29 लाख रुपये


एक्सइ रिदम  5.54 लाख रुपये

सिग्मा  5.58  लाख रुपये
एक्सएम   6.15 लाख रुपये

एक्सएम स्टाइल 6.49 लाख रुपये
डेल्टा  6.36 लाख रुपये
एक्सएम रिदम 6.54 लाख रुपये

एक्सएम रिदम + स्टाइल 6.79 लाख रुपये

एक्सटी   6.84 लाख रुपये
जेटा  6.97 लाख रुपये
एक्सटी लक्स   7.23 लाख रुपये
डेल्टा स्मार्ट हायब्रिड  7.25 लाख रुपये
एक्सजेड        7.44 लाख रुपये
अल्फ़ा  7.58 लाख रुपये
एक्सजेड (ओ)   7.69 लाख रुपये
जेटा स्मार्ट हाइब्रिड  7.86 लाख रुपये
एक्सजेड अर्बन   7.74 लाख रुपये